उज्ज्वला 2.0 : बिना राशनकार्ड या निवास प्रमाणपत्र के भी मिलेगा एलपीजी कनेक्शन, ऐसे करें अप्लाई

महिलाओं को धुंए को दुष्प्रभावों से बचाने और प्रदूषण के स्तर में कमी लेन के मकसद से केंद्र सरकार की ओर से 2016 में शुरू की गई उज्ज्वला योजना का दूसरा चरण सोमवार को लॉन्च कर दिया गया। इसमें लाभार्थियों को बिना राशनकार्ड या निवास प्रमाणपत्र के भी मुक्त एलपीजी कनेक्शन हासिल करने की सुविधा मिलेगी।

दूसरे चरण में गैस चूल्हा मुफ्त मिलेगा
उज्ज्वला योजना के पहले चरण में सरकार एलपीजी कनेक्शन के लिए 1600 रूपये की आर्थिक सहायता देती थी, लाभार्थी गैस चूल्हे और सिलिंडर के लिए ब्याजमुक्त ऋण ले सकते थे। हालांकि, दूसरे चरण में एलपीजी कनेक्शन तो निशुल्क मिलेगा ही, साथ ही पहले सिलेंडर की रिफिलिंग भी मुक्त होगी, लाभार्थियों को गैस चूल्हे के लिए भी कोई भुगतान नहीं करना पड़ेगा।

उज्ज्वला 2.0 : बिना राशनकार्ड या निवास प्रमाणपत्र के भी मिलेगा एलपीजी कनेक्शन, ऐसे करें अप्लाई

केवाईसी के लिए नहीं चाहिए हलफनामा
दूसरे चरण में केवाईसी के लिए किसी नोटरी या हलफनामे की जरूरत नहीं पड़ेगी। राशन कार्ड या निवास प्रमाणपत्र न होने पर आवेदक का घोषणापत्र भी मान्य रहेगा। आधार कॉर्ड सहित अन्य पहचानपत्र के आधार पर एलपीजी कनेक्शन हासिल लिया जा सकेगा|

दूसरी जगह का पता हो तो क्या करें आधार कार्ड में दूसरी जगह पता होने पर लाभार्थी मतदाता पहचानपत्र, ड्राइविंग लाइसेंस, बैंक स्टेटमेंट, राशन कार्ड पिछले तीन महीने का बिजली या टेलीफोन बिल, पानी का बिल, फ्लैट अलॉटमेंट/पजेशन पत्र, जीवन बिमा पॉलिसी, लीज एग्रीमेंट को भी निवास प्रमाणपत्र के रूप में सौप सकते है।

आवेदन की प्रक्रिया
अपने मोबाईल या कंप्यूटर पर वेबसाइट https://www.pmuy.gov.in/ujjwalaw.html खोले। यहां आपको तीन गैस कंपनियों के एलपीजी कनेक्शन के लिए आवेदन करने का विकल्प मिलेगा इंडेन, एचपी और भारत गैस में से मनचाही कंपनी के सामने दिए ‘अप्लाई’ के विकल्प पर क्लिक करें।

इससे संबधित गैस कंपनी का वेबपेज खुल जाएगा, उस पर वांछित जानकारियां भरें, जरूरी दस्तावेज भी अपलोड करें। ईकेवाईसी भरने के बाद सभी मूल दस्तावेज लेकर नजदीक गैस डिस्ट्रिव्यूटर के पास जाएं, ताकि उनका वेरिफिकेशन हो सके। लाभार्थियों को गैस चूल्हे के लिए भी कोई भुगतान नहीं करना पड़ेगा।

2016 में हुई शरुआत
01 मई 2016 को प्रधानमंत्री मोदी ने यूपी के बलिया से की थी उज्ज्वला योजना की शरुआत। 05 करोड़ गरीब परिवार की महिलाओं को मुक्त एलपीजी कनेक्शन देने का लक्ष्य रखा गया था।

Leave a Reply

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *