पंचायतीराज चुनाव के लिए 15 अगस्त के बाद लगेगी आचार संहिता 7 जिलों में

पंचायतीराज चुनाव से शेष रहे 12 जिलों में जिला परिषद, पंचायत समिति चुनाव कराने के लिए राज्य निर्वाचन आयोग ने तैयारियां पूरी कर ली है। अगस्त के पहले सप्ताह में 7 जिलों के लिए आचार सहिंता लगाने की तैयारी कर रहे आयोग को अब 15 अगस्त तक इंतजार करना पड़ेगा। प्रदेश में कोरोना के केसों की संख्या कम होने के बाद राज्य निर्वाचन आयोग ने 12 जिलों में चुनाव के लिए तैयारियां पूरी कर ली थी।

पंचायतीराज चुनाव के लिए 15 अगस्त के बाद लगेगी आचार संहिता

आयोग चुनाव के लिए आचार सहिंता लगाने के लिए तैयार था। लेकिन पंचायतों के पुनर्गठन को लेकर 3 जिलों की 5 ग्राम पंचायतों ने हाईकोर्ट में रिट लगा दी, जिस पर हाईकोर्ट ने पंचायतीराज और राज्य निर्वाचन आयोग ने नोटिस जारी कर इस पर चुनाव कराने से पहले जवाब मांग लिया है। हाईकोर्ट के नोटिस को लेकर राज्य निर्वाचन आयोग के अधिकारीयों का कहना है की इससे चुनाव पर कोई असर नहीं पड़ेगा।

उनका कहना है की इसमें कहीं भी जिला परिषद, पंचायत समिति के चुनाव रोकने के लिए नहीं कहा गया। पंचायत चुनाव को लेकर उनका आदेश है, लेकिन अभी पंचायतों के चुनाव नहीं है। प्रदेश में कोरोना के केसों की संख्या कम होने के बाद राज्य निर्वाचन आयोग ने 12 जिलों में चुनाव के लिए तैयारियां पूरी कर ली थी। हालांकि उन्होंने 13 अगस्त को अपना जवाब देने की बात कही है। जिसके लिए उन्होंने तैयारी कर

चुनाव के लिए आयोग कलक्टरों से कर चूका चर्चा

माना जा रहा है की पहले चरण में आयोग 7 जिलों में चुनाव कर सकता है। इसके लिए जिला कलक्टरों से आयोग ने चर्चा कर ली है। कलक्टरों को आवश्यक तैयारियां रखने के निर्देश दिए है। आयोग शुरुआत में भरतपुर, दौसा, जयुपर, जोधपुर, सवाईमाधोपुर, सिरोही, और श्रीगंगानगर जिलों में चुनाव कराने के लिए तैयार है। यहां पर ईबीएम की फर्स्ट लेवल चेकिंग का काम भी शुरू कर दिया गया है।

Leave a Reply

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *